राजस्थान : भाषा एवं साहित्य

राजस्थान : भाषा एवं साहित्य
Q. 1. दक्षिणी - पूर्वी राजस्थान की प्रमुख बोलियाँ है -
   (1) मालवी तथा नीमड़ी ✔️
   (2) मेवाती तथा अहीरवाटी
   (3) ढूँढाडी तथा हाड़ौती
   (4) मारवाड़ी तथा मेवाती
Q. 2. मारवाड़ी के बाद राजस्थान की दूसरी सबसे महत्वपूर्ण बोली है -
   (1) ढूँढाड़ी
   (2) बागड़ी
   (3) मेवाड़ी ✔️
   (4) हाड़ौती
Q. 3. राजस्थान की किस बोली पर ब्रजभाषा का प्रभाव काफी अधिक दृष्टिगोचर होता है ?
   (1) हाड़ौती
   (2) ढूँढाड़ी
   (3) मेवाती ✔️
   (4) मेवाड़ी
Q. 4. किस श्रेणी की रचनाओं में राजवंशों की वंशावलियाँ विस्तृत विवरण सहित लिखी गई है ?
   (1) वात
   (2) वचनिका
   (3) वंशावली ✔️
   (4) ख्यात
Q. 5. किरतार बावनौ के लेखक हैं -
   (1) कवि दुरसा आढ़ा ✔️
   (2) कवि चन्दबरदाई
   (3) जयानक
   (4) कवि कल्लोल
Q. 6. असंगत युग्म को छांटिए -
   (1) पश्चिमी राजस्थानी : मारवाड़ी, मेवाड़ी, बागड़ी एवं शेखावाटी
   (2) मध्य - पूर्वी राजस्थानी : ढूँढाड़ी व हाड़ौती
   (3) उत्तरी - पूर्वी राजस्थानी : मेवाती एवं अहीरवाटी
   (4) इनमें से कोई नहीं ✔
Q. 7. जोधपुर किले में "पुस्तक प्रकाश" पुस्तकालय की स्थापना किसने की ?
   (1) जसवन्त सिंह
   (2) अजीत सिंह
   (3) मानसिंह ✔
   (4) तख्तसिंह
Q. 8. 'निमाड़ी और रागड़ी' किस बोली की विशेषता है ?
   (1) हाड़ौती
   (2) मेवाती
   (3) मालवी ✔
   (4) अहीरवाटी
Q. 9. राजस्थान की किस देशी रियायत ने स्वतंत्रता से पूर्व हिन्दी भाषा को राजकीय भाषा बनाया?
   (1) जोधपुर
   (2) उदयपुर
   (3) जयपुर
   (4) भरतपुर ✔
Q. 10. 'संगीत सार' एवम् 'राग-मंजरि' के लेखक हैं :
   (1) राणा कुम्भा
   (2) राजकवि राज भट्ट
   (3) महाराजा प्रताप सिंह ✔
   (4) महाकवि पद्माकर
Q. 11. राजस्थानी भाषा की उपशाखाएँ हैं -
   (1) चार ✔
   (2) पाँच
   (3) छह
   (4) सात
Q. 12. मेवाड़ी बोली कहाँ बोली जाती है ?
   (1) चित्तौड़गढ़ व उसके समीपवर्ती क्षेत्र में
   (2) उदयपुर व उसके समीपवर्ती क्षेत्र में ✔
   (3) सिरोही व उसके समीपवर्ती क्षेत्र में
   (4) कोटा व उसके समीपवर्ती क्षेत्र में
Q. 13. मेवाती बोली कहाँ बोली जाती है ?
   (1) अलवर एवं भरतपुर क्षेत्र में ✔
   (2) कोटा एवं बूँदी क्षेत्र में
   (3) सिरोही एवं जालौर क्षेत्र में
   (4) जयपुर एवं दौसा क्षेत्र में
Q. 14. राजस्थानी साहित्य की विधा है -
   (1) ख्यात
   (2) वंशावली
   (3) वात
   (4) उपर्युक्त सभी ✔
Q. 15. पद्मावत के लेखक हैं -
   (1) मुहणोत नैणसी
   (2) मलिक मोहम्मद जायसी ✔
   (3) कवि करणीदान
   (4) केशवदास गाडण
Q. 16. 'Linguistic Survery of India' के लेखक है -
   (1) डॉ० मोतीलाल मेनारिया
   (2) डॉ० पुरुषोत्तम मेनारिया
   (3) कर्नल जेम्स टॉड
   (4) डॉ० जार्ज अब्राहम गियर्सन ✔
Q. 17. मारवाड़ी भाषा की बोली / बोलियाँ है /हैं -
   (1) मेवाड़ी
   (2) बागड़ी
   (3) शेखावाटी
   (4) उपर्युक्त सभी ✔
Q. 18. कवि सूर्यमल्ल की रचनाएं किस बोली में है?
   (1) हाड़ौती ✔
   (2) ढूंढ़ाड़ी
   (3) बागड़ी
   (4) मेवाड़ी
Q. 19. ब्राह्मण साहित्य श्रेणी का ग्रंथ है -
   (1) कान्हड़दे प्रबंध
   (2) बीसलदेव रासौ
   (3) रणमल छंद
   (4) उपर्युक्त सभी ✔
Q. 20. हम्मीर रासौ के लेखक है -
   (1) जोधराज ✔
   (2) जयानक
   (3) कवि कल्लोल
   (4) मुहणोत नैणसी
Q. 21. राजपूताने का इतिहास के लेखक है -
   (1) पं० गौरीशंकर ओझा ✔
   (2) उद्योतन सूरी
   (3) बाँकीदास
   (4) महाकवि बिहारी
Q. 22. मारवाड़ रा परगना री विगत के लेखक है -
   (1) मुहणोत नैणसी ✔
   (2) मलिक मोहम्मद जायसी
   (3) कवि करणीदान
   (4) केशवदास गाडण
Q. 23. स्व० हमीदुल्ला द्वारा रचित नाटक है -
   (1) दरिन्दे
   (2) ख्याल
   (3) भारमली
   (4) उपर्युक्त सभी ✔
Q. 24. राजस्थानी भाषा का वर्गीकरण करने वाले प्रथम व्यक्ति थे -
   (1) डॉ० जार्ज अब्राहम गियर्सन ✔
   (2) कर्नल जेम्स टॉड
   (3) डॉ० मोतीलाल मेनारिया
   (4) डॉ० पुरुषोत्तम मेनारिया
Q. 25. विस्तार एवं साहित्य दोनों ही दृष्टियों से राजस्थान की सर्वाधिक समृद्ध एवं महत्वपूर्ण भाषा है -
   (1) मेवाड़ी
   (2) बागड़ी
   (3) मारवाड़ी ✔
   (4) ढूँढ़ाड़ी
Q. 26. कोटा, बूँदी, बाराँ तथा झालावाड़ के उत्तरी भाग में बोली जाने वाली बोली है -
   (1) ढूँढ़ाड़ी
   (2) बागड़ी
   (3) हाड़ौती ✔
   (4) मेवाड़ी
Q. 27. राजस्थानी साहित्य को कितने भागों में विभक्त कर सकते हैं?
   (1) चार
   (2) पाँच ✔
   (3) छह
   (4) सात
Q. 28. खुमाण रासौ के लेखक है -
   (1) दलपत विजय ✔
   (2) जोधराज
   (3) कवि कल्लोल
   (4) केशवदास गाडण
Q. 29. राजस्थानी भाषा, साहित्य एवं संस्कृति अकादमी कहाँ स्थित है?
   (1) जोधपुर
   (2) बीकानेर ✔
   (3) जयपुर
   (4) भरतपुर
Q. 30. मेवाड़ के स्वाभिमानी महाराजा फतेहसिंह को 1903 ई० में दिल्ली दरबार में जाने से किसने रोका था?
   (1) सूर्यमल्ल मिश्रण
   (2) केसरीसिंह बारहठ ✔
   (3) शिवदास गाडण
   (4) सायांजी झूला

No comments:

Post a comment